FAQ – 005 : होम्योपैथी में दवा मांगने पर दुकानदार पोटेंसी पूछते हैं – इसका क्या मतलब होता है?

# पोटेंसी होम्योपैथिक दवाओं की शक्ति या पॉवर होती है. कम पोटेंसी की दवाएं जल्दी जल्दी दोहराई जा सकती हैं जबकि ज्यादा पोटेंसी वाली दवाओं को देर से लेना होता है.
इसे ऐसे समझा जा सकता है – जैसे 6 और 30 पोटेंसी की दवा है तो दो-दो या तीन-तीन घंटे के अंतराल पर लिया जा सकता है. उसी तरह 200 पोटेंसी की दवा है तो हफ्ते में एक बार या 1M है तो महीने में दो बार लेना होता है. हालांकि, ये डॉक्टर अपने विवेक से तय करता है कि रोगी कौन सी पोटेंसी की दवा किस हिसाब से देनी है.

चेतावनी/CAUTION: कृपया योग्य डॉक्टर की सलाह के बगैर कोई दवा न लें. ऐसा करना सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है.

  • होम्योपैथी को लेकर लेटेस्ट पोस्ट से अपडेट रहने के लिए #हैनिमन कैफे के फेसबुक पेज को लाइक करें. ट्विटर के जरिये लेटेस्ट अपडेट के लिए @HahnemannCafé को फॉलो करें.
  • अगर आपको लगता है कि यहां दी गई जानकारी आपके किसी रिश्तेदार, मित्र या परिचित के काम आ सकती है तो उनसे जरूर शेयर करें.
  • अपने सुझाव, सलाह या कोई और जानकारी/फीडबैक देने के लिए हमारा CONTACT पेज विजिट करें.

    यह भी पढ़ें:http://hahnemanncafe.in/233/faq-004-how-many-sweet-pill-in-one-dose-of-homoeopathy