हर्निया के ज्यादातर मामलों में Nux Vomica और Sulphur से ही फायदा देखने को मिलता है. जरूरत पड़ने पर दोनों दवाएं लोअर पोटेंसी में एक साथ भी चलाई जा सकती हैं. जब Nux Vomica की लोअर पोटेंसी का असर दिखे तो धीरे धीरे उसे बढ़ाया जा सकता है. इनके अलावा लक्षणों के आधार पर दूसरी दवाएं भी आजमायी जा सकती हैं.

और संभावित दवाएं :

1. Aconite Nap – पहली बार हर्निया की तकलीफ हुई हो तो शुरुआती एक घंटे में ये दवा फायदेमंद हो सकती है. पेट में भयंकर जलन हो और जरा सा भी छूने से दर्द बढ़ने लगे.

2. Veretrum Album – अगर Aconite Nap से आराम न मिले तो Veretrum Album जरूर देना चाहिये.

3. Nux Vomica और Sulphur – ये दोनों ही दवाएं हर्निया की सामान्य शिकायतों में काफी उपयोगी हैं. इन्हें सुबह शाम लेना होता है. ध्यान देने वाली बात ये है कि Nux Vomica सिर्फ रात को सोते समय और Sulphur सुबह खाली पेट लेना चाहिये. और हां, Sulphur सूर्योदय के बाद ही लेना चाहिये.

4. Chammomilla – अगर हर्निया के साथ दस्त भी हो रही हो तो ये दवा देनी चाहिये. लोअर पोटेंसी में Chammomilla तब तक देनी चाहिये जब तक दस्त बंद न हो जाये.

5. Arnica Mont – अगर गिर जाने के कारण या किसी प्रकार चोट लगने से हर्निया की तकलीफ हो तो Arnica Mont ही सटीक दवा है.
चेतावनी/CAUTION: कृपया योग्य डॉक्टर की सलाह के बगैर कोई दवा न लें. ऐसा करना सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है.

इसे भी पढ़ें: वेट लॉस का बेस्ट फॉर्मूला – मीठी गोलियां और भर पेट भोजन – बस और कुछ नहीं

इसे भी जानें: होम्योपैथी को लेकर भ्रम न पालें, पहले इस्तेमाल करें फिर विश्वास करें

  • होम्योपैथी को लेकर लेटेस्ट पोस्ट से अपडेट रहने के लिए #हैनिमन कैफे के फेसबुक पेज को लाइक करें.
  • ट्विटर के जरिये लेटेस्ट अपडेट के लिए @HahnemannCafé को फॉलो करें.
  • अगर आपको लगता है कि यहां दी गई जानकारी आपके किसी रिश्तेदार, मित्र या परिचित के काम आ सकती है तो उनसे जरूर शेयर करें.
  • अपने सुझाव, सलाह या कोई और जानकारी/फीडबैक देने के लिए हमारा CONTACT पेज विजिट करें.