हैनिमन कैफे के जरिये एक छोटी सी कोशिश है होम्योपैथी को समझने की. रोजमर्रा की जिंदगी में आने वाली समस्याओं के समाधान तलाशने की. किसी भी बीमारी के इलाज से बेहतर हमेशा बेहतर होता है उसकी रोकथाम. कुछ मामलों में अगर ऐसा संभव न भी हो पाए तो शुरुआती इलाज से बीमारी को बढ़ने से रोका जा सकता है. ऐसे मामलों में होम्योपैथिक रेमेडीज की बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका देखी गई है.
कुछ लोग होम्योपैथी के चमत्कार की बात करते हैं तो कुछ ऐसे भी हैं जो इसे सिरे से खारिज कर देते हैं. दावे और उनके काउंटर की प्रवृत्ति हर फील्ड मेंं है – फिर भी दुनिया चलती रहती. इस व्यवस्था के चलते ही शायद और अच्छे से चलती है.

चेतावनी: आम धारणा है कि होम्योपैथिक रेमेडीज का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता, ऐसा मान कर खुद से दवा लेना खतरनाक हो सकता है. किसी भी सूरत में बगैर प्रोफेशनल गाइडेंस के दवा लेने की सलाह नहीं दी जाती.

हैनिमन कैफे का मकसद यथासंभव सही, सटीक और ऐसी जानकारी उपलब्ध कराना है जिससे लोग होम्योपैथी को लेकर भ्रम दूर हो – लोगों को स्वस्थ रहने में मददगार हो. किसी भी होम्योपैथिक रेमेडीज के बारे में यहां दी गई जानकारी का मकसद सिर्फ सूचना देना है, स्वयं से इलाज को बढ़ावा देना कत्तई नहीं. हमारी सलाह है कि आप ज्ञानवर्धन से ज्यादा इसको लेकर कभी भी उत्साहित न हों. अगर आपको कोई जानकारी अपने लायक लगती हो तो किसी क्वालिफाइड होम्योपैथ की सलाह से ही उसके सेवन का फैसला करें – खुद से तो कत्तई नहीं. ऐसा करना खतरनाक हो सकता है. ऐसे किसी भी नुकसान के लिए हैनिमन कैफे की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी.

अगर आपके पास कोई महत्वपूर्ण जानकारी है तो हमसे जरूर शेयर करें. हमें आपके बहुमूल्य सुझावों का भी इंतजार रहेगा. इसके लिए आप हमारे CONTACT पेज का इस्तेमाल कर सकते हैं.